रोग प्रतिरोधक क्षमता क्या होती है | What is Immunity In Hindi

रोग प्रतिरोधक क्षमता क्या होती है | What is Immunity In Hindi?

हम आप को इस Blog में इम्युनिटी के बारे में पूरी जानकारी देने वाले है। इम्युनिटी क्या होती है ( What Is Immunity In Hindi) ये कितने प्रकार की होती है आदि।

इस कोरोना महामारी के समय में ज्यादा तर लोग अपने स्वास्थ को लेकर बहुत जागरूक हो रहे हैं।

कोरोना के वजह से अब लोगो को इम्युनिटी का Importance समझ में आने लगा है। लोग अब इम्युनिटी के बारे में जानना चाहते हैं।

रोग प्रतिरोधक क्षमता क्या होती है | What is Immunity In Hindi?

Immunity मेडिकल और बायोलॉजिकल साइंस का एक शाखा होता है Immunity बहुत सारे Branches के Through हम को इन्फेक्शन से बचाता है।

इम्युन सिस्टम  शरीर में इन्फेक्शन से सुरक्षा करता है।

जब Bacteria और Virus जैसे रोगजनक तत्व हमारे शरीर में प्रवेश करते है, उसकी वजह से जो कोशिकाओं को नुकसान पहुचता है। इम्युनिटी सिस्टम उस कोशिकाओं को सक्रिय करने में भूमिका निभाता है और हमे स्वस्थ रखता है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता(Immunity) कितने प्रकार की होते हैं? Types of Immunity in

Hindi

जानकारी के लिए बता दें, इम्युनिटी तीन प्रकार के होती है।

इनेट इम्युनिटी | Innate Immunity in Hindi

हम आपको बता दे की कोई भी व्यक्त जब जन्म लेता है तो Innate Immunity उसके साथ आती है।

Innate Immunity हमारे शरीर को सभी जीवाणु , वायरस , इन्फेक्शन से बचाता है।

Innate Immunity हमारे शरीर में हानिकारक पदार्थो को अंदर जाने से रोकता है और हमे इन्फेक्शन से बचाता है।

हमारे शरीर को बाहर के जीवाणु या वायरसो पर Attack करने के लिए इम्यून सिस्टम को सक्रिय कर देता है।

Innate Immunity हमारे शरीर के immune system का पहला Part होता है।

अडाप्टिव इम्युनिटी | Adaptive Immunity In Hindi

हमारे शरीर में कोई जीवाणु चला जाता है और जगह बनाने की कोशिस करता है तो Adaptive Immunity सक्रिय हो जाता है

जब जीवाणु अपनी जगह बढ़ा कर किसी भी कोशिका को नुकसान पहुँचाता है तब Adaptive Immunity कोशिका को सक्रिय करने के लिए और जीवाणु के खिलाफ लड़ने के लिए Antibodies बनाना शुरू कर देता है।

निष्क्रिय प्रतिरक्षा | Passive Immunity In Hindi

पैसिव इम्युनिटी किसी दूसरे के द्वारा दिया जाता है।जैसे एक शिशु अपने माँ से प्लेसेंटा के द्वारा प्राप्त करता है।

ये किसी विशिष्ट बीमारी से तुरंत सुरक्षा के लिए दिया जाता है।हालांकि ये कुछ सप्ताह या महीनों तक ही सीमित रहता है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता(Immunity) कम होने का कारण क्या है?

क्या आप बार बार बीमार हो जाते है ? अगर आप बार बार बीमार हो जाते है तो हो सकता है की आप की Immunity Power कमजोर हो गई हो।

इस कोरोना महामारी के प्रकोप से बहुत से लोगो की स्वास्थ ख़राब हो चुकी है।
इम्युनिटी कम होने कई कारण हो सकते है।

अगर आप के शरीर में किसी कारण बस खरोच आ जाती है या आप के शरीर में छोटे मोटे घाव हो जाते हैं तो आप देखते होंगे कि उस घाव को ठीक होने में काफी समय लग जाता है।यह भी एक संकेत है इम्युनिटी कमजोर होने का

फ्लू वायरस और खसरा जैसे संक्रमण भी हमारे Immune System को कुछ समय के लिए कमजोर कर सकती है।

हम आपको कुछ कारणों के बारे में बता देते है जिससे आपको पता लग जाये की इम्युनिटी पॉवर क्यों कमजोर हो जाती है

आदतें जिनकी वजह से इम्युनिटी कमजोर होती हैं | Habits for Weak Immunity in

Hindi

धूम्रपान का सेवन | Smoke

धूम्रपान करने से इम्यून सिस्टम कमजोर हो सकती है।धूम्रपान करने से रुमेटॉइड गाठिया हो जाती है जो की एक ऑटोइम्यून बीमरी है। यह बीमरी हमारे इम्यून सिस्टम के जोड़ो पर अटैक करता है जिस के कारण से हमारे Body में सुजन और दर्द होना शुरू हो जाता है।

पर्याप्त नींद | Enough Sleep

हमारे शरीर के लिए नींद सबसे जरूरी होती है। जब हम सोते है तो हमारे शरीर की कोशिकाओं की रिकवरी होती है। आपने कभी देखा होगा की जब आप को लगता है कुछ तबियत ठीक नहीं है और फिर आप सो जाते है और जब आप थोड़े समय के बाद उठते हैं तो ऐसा लगता है की मैं बुल्कुल स्वस्थ हूँ। आपको एक दिन में 6 से 7 घंटे का नीद जरूरी होता है

दवाईओं का सेवन | Taking Drugs

बहुत सारे दवावों के सेवन करने से भी हमारे इम्यून सिस्टम पर प्रभाव पड़ता है। Immunity की कमी कीमोथेरिपी एवं केंसर में इस्तेमाल होने वाली दवावों से भी हो सकती है।

इसीलिए हमको अगर बहुत जरूरत न पड़े तो हमको दवावों से दूरी बना कर रखनी चाहिए।

तनाव | Stress

अगर लंबे समय तक तनाव (Stress )रहता है तो ये हमारे इम्यून सिस्टम को प्रभावित करता है। तनाव के कारण हमारे शरीर में कोर्टिसोल जैसी हॉर्मोन्स की मात्रा बढ़ने लगती है जिसकी वजह से हमारे स्वास्थ्य को परेशानी होने लगती है।

जब हमारा तनाव काफी समय तक रहता है तो हमारे शरीर के कुछ part पर असर डालता है जिससे कुछ समय के बाद टीकाकरण भी काम नही करता है।

निष्कर्ष | Conclusion

हम उम्मीद करते है की हमारे द्वारा दी गयी जानकारी आप को अच्छी लगी होगी अगर आप इम्युनिटी (Immunity in Hindi) बढ़ाने के बारे में जानना चाहते है तो आप हमारे इस Blog “रोग प्रतिरोधक क्षमता कैसे बढ़ाए(How To Boost Immunity In Hindi)” को पढ़ सकते हैं।

अगर आपके पास इससे Related Question है तो आप Comment में पूछ सकते है।

हम आपको जवाब जरूर देंगे

धन्यवाद !!

FAQ’s on रोग प्रतिरोधक क्षमता क्या होती है | What is Immunity In Hindi

Herd immunity क्या होती है?

Herd Immunity, जब एक Community में अधितर लोगो को एक ही बीमारी हो जाती है जिससे बीमारी एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलने की सम्भावना कम हो जाती है।

किस विटामिन में इम्युनिटी बढ़ाने की क्षमता ज्यादा होती है?

इम्युनिटी बढ़ाने के लिए सबसे अच्छा 3 विटामिन है।

  1. Vitamin C
  2. Vitamin B6
  3. Vitamin E

रोग प्रतिरोधक क्षमता (Immunity) कितने प्रकार की होती है?

रोग प्रतिरोधक क्षमता 3 प्रकार की होती है 

  1. Innate Immunity
  2. Adaptive Immunity
  3. Passive Immunity

रोग प्रतिरोधक क्षमता कैसे बढ़ाये(How To Boost Immunity In Hindi)

रोग प्रतिरोधक क्षमता कैसे बढ़ाये इस के बारे में हमने बहुत अच्छे से बताया है आप इस How To Boost Immunity In Hindi लिंक पर क्लिक कर के उसको पढ़ सकते है।

Share on:

Leave a Comment

Terms of Service | Disclaimer | Privacy Policy
क्या आप Cryptocurrency के बारे में जानते हैं? The Election Law Admendment Bill 2021 – विपक्षी दल कर रहे विरोध। Apple iPhone 13 हुआ लॉन्च – जानिए क्या है उसके फीचर्स। iPhone 14 भी हुआ leak – Top Rumored Features Apple iPhone 13 Released Date : बिलकुल ही Fresh looks और नये Features के साथ