यूपी कामधेनु डेयरी योजना 2024 | UP Kamdhenu Dairy Yojana 2024

“यूपी कामधेनु डेयरी योजना 2024 | UP Kamdhenu Dairy Yojana 2024” का उद्देश्य उत्तर प्रदेश में उच्च गुणवत्ता वाले दूध उत्पादक पशुओं का निर्माण और पहुंच सुनिश्चित करना है | इसके अलावा, इस योजना का उद्देश्य राज्य में अधिक उपज देने वाले जर्म प्लाज़्म दूध उत्पादक पशुओं को बढ़ावा देना और किसानों तक अधिक दूध देने वाले पशुओं की पहुंच सुनिश्चित करना भी है |

कामधेनु योजना उत्तर प्रदेश में उच्च उपज देने वाले जर्म प्लाज़्म जानवरों की कम उपलब्धता को पार करने के लिए वर्ष 2013 में शुरू की गई एक डेयरी योजना है। इसके कामधेनु, मिनी कामधेनु और माइक्रो कामधेनु संस्करण उत्तर प्रदेश सरकार के पशुपालन विभाग द्वारा शुरू किए गए थे। राज्य सरकार ने कामधेनु डेयरी योजना शुरू की है, जिसमें उत्तर प्रदेश के बाहर से लाए गए 100 अधिक दूध देने वाले पशु इकाइयों की स्थापना की परिकल्पना की गई है। उद्यमियों को ब्याज मुक्त ऋण और सब्सिडी प्रदान की जाती है। इस योजना के माध्यम से 100, 50 और 25 मवेशियों के 1000 से अधिक डेयरी फार्म स्थापित किए गए हैं। उत्तर प्रदेश में स्थापित। राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड (National Dairy Development Board (NDDB) की राष्ट्रीय डेयरी योजना (National Dairy Plan (NDP) उत्तर प्रदेश की इकाई के अंतर्गत आती है।

Also, read: कन्या सुमंगला योजना 2024 | Kanya Sumangala Yojana 2024

Table of Contents

यूपी कामधेनु डेयरी योजना 2024 | UP Kamdhenu Dairy Yojana 2024

उत्तर प्रदेश दुग्ध उत्पादन के क्षेत्र में अग्रणी प्रदेश है। यद्यपि प्रदेश वर्ष 2013-14 में 241.939 लाख मीट्रिक टन दुग्ध उत्पादन कर देश में प्रथम स्थान पर है। लेकिन अन्य प्रदेशो की तुलना में प्रदेश में प्रति पशु दुग्ध उत्पादकता कम है, जिसका मुख्य कारण प्रदेश में उच्च गुणवत्ता युक्त पशुओं की संख्या का कम होना है। उच्च गुणवत्ता युक्त पशुधन की कमी को दृष्टिगत रखते हुये प्रदेश सरकार द्वारा उच्च गुणवत्ता के 100 दुधारू पशुओ की डेयरी यूनिट स्थापित करने की योजना पारम्भ की गई है। जिसके माध्यम से पशु पालन के क्षेत्र में उद्यमिता के विकास हेतु ब्याज मुक्त कामधेनू इकाईयां स्थापित की जायेगी। योजना में पशुधन का क्रय प्रदेश के बाहर से किया जायेगा। योजना अन्तर्गत 300 कामधेनू डेयरी इकाईयो की स्थापना का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जिनकी स्थापना 31 मार्च 2017 तक किया जाना निर्धारित किया गया था |

यूपी-कामधेनु-डेयरी-योजना-UP-Kamdhenu-Dairy-Yojana-2024

  • यह योजना 2017 में शुरू की गई थी।
  • इस योजना के तहत, सरकार गौ पालकों को डेयरी इकाई स्थापित करने के लिए 50% तक सब्सिडी प्रदान करती है।
  • गायों की खरीद के लिए 25% तक सब्सिडी भी प्रदान की जाती है।
  • इस योजना के तहत, चारागाह विकास के लिए भी अनुदान प्रदान किया जाता है।
  • गौ पालकों को डेयरी प्रशिक्षण और क्षमता निर्माण भी प्रदान किया जाता है।
  • इस योजना के तहत, बाजार linkages भी प्रदान किए जाते हैं।

Also, read: मुख्यमंत्री प्रवासी श्रमिक उद्यमिता विकास योजना | Mukhyamantri Pravasi Shramik Entrepreneurship Development Scheme

यूपी कामधेनु डेयरी योजना 2024 के मुख्य बिन्दु | Main points of UP Kamdhenu Dairy Scheme 2024

  • योजनान्तर्गत प्रदेश में 100 दुधारू गाय/भैंसों की डेयरी इकाईयां स्थापित की जायेगी।
  • दुधारू गायों में संकर जर्सी, संकर एच0एफ0 अथवा साहीवाल प्रजाति की गाय तथा भैंसों में मात्र मुर्रा प्रजाति की भैंस (Jersey, hybrid HF or Sahiwal species of cows and among buffaloes only Murrah species of buffalo) ही रखी जायेगी।
  • 100 दुधारू पशुओं की एक यूनिट स्थापित करने हेतु पशुपालक अपनी सुविधानुसार यह स्वयं निर्णय ले सकेगा कि यूनिट में समस्त गाय अथवाभैंसें रखनी है अथवा गायें एवं भैंसें दोनो कितनी-कितनी संख्या में रखनी है। परन्तु इकाई में गोवंश एक ही प्रजाति का होना अनिवार्य है।
  • पशुओं का क्रय प्रदेश के बाहर से किया जायेगा।
  • लाभार्थी के पास निर्माण आदि कार्यो के लिये आवश्यक भूमि के अतिरिक्त कम से कम दो एकड़ भूमि होना आवश्यक है।
  • एक इकाई की कुल लागत रू0 121.52 लाख है, जिसमें 100 दुधारू पशुओं का क्रय तथा पशु गृहो,भूसा गोदाम, गोबर गैस प्लान्ट, फीड मिक्स प्लान्ट आदि (Animal houses, chaff warehouse, cow dung gas plant, feed mix plant etc.) का निर्माण सम्मिलित है।
  • यूनिट की पूर्ण लागत की 25 प्रतिशत यथा धनराशि रू 30.38 लाख लाभार्थी द्वारा मार्जिन मनी के रूप में स्वयं वहन करनी होगी एवं अवशेष 75 प्रतिशत यथा धनराशि रू 91.14 लाख बैंक ऋण के माध्यम से प्राप्त की जा सकेगी।
  • योजना लागत के 75 प्रतिशत पर या लाभार्थी द्वारा बैंक से प्राप्त किये गये ऋण, जो भी कम हो, 12 प्रतिशत ब्याज की दर से अधिकतम रू 32.82 लाख की धनराशि की प्रतिपूर्ति 5 वर्षों (60 माह) तक प्रदेश सरकारद्वारा की जायेगी।
  • इस योजना के लिए पशुपालन विभाग, उत्तर प्रदेश सरकार में एक नोडल अधिकारी नामित है | इनका फ़ोन नंबर 0522-2742879 और ईमेल- kamdhenuyojana2015@gmail.com है |

Also, read: उत्तर प्रदेश बेरोजगारी भत्ता योजना 2024 | Uttar Pradesh Berojgari Bhatta Yojana 2024

यूपी कामधेनु डेयरी योजना 2024 की पात्रता | Eligibility of UP Kamdhenu Dairy Scheme 2024

  • प्रत्येक इकाई में दूध देने वाले 100 पशु (गाय/भैंस) होंगे |
  • गायें या तो सभी क्रॉस ब्रीड जर्सी, या क्रॉस ब्रीड एच.एफ. या शाहीवाल नस्ल की होंगी, भैंसें केवल मुर्रा नस्ल की होंगी।
  • इकाई केवल गाय या केवल भैंस की हो सकती है या दोनों की मिश्रित संख्या, चाहे जो भी हो।
  • इस योजना के तहत सभी पशुओं को राज्य के बाहर से खरीदा जाना है।
  • शेड और गोदाम आदि के निर्माण के लिए आवश्यक भूमि को छोड़कर, लाभार्थी के पास कम से कम दो एकड़ भूमि होनी चाहिए।

Also, read: मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना 2024 | Mukhyamantri Yuva Swa-rojgar Yojana 2024

यूपी कामधेनु डेयरी योजना 2024 की मुख्य विशेषताएं | Key Features of UP Kamdhenu Dairy Scheme 2024

  • प्रत्येक इकाई में 25 से लेकर 100 तक दूध देने वाले पशु (गाय/भैंस) शामिल होंगे।
  • गायें या तो क्रॉस ब्रीड जर्सी, या क्रॉस ब्रीड एच.एफ. या शाहीवाल नस्ल की होंगी, भैंसें केवल मुर्रा नस्ल की होंगी।
  • किसान/लाभार्थी यह तय करेंगे कि इकाई केवल गाय की होगी या केवल भैंस की या दोनों को मिलाकर, चाहे जो भी संख्या हो। हालाँकि डेयरी इकाई में रखी जाने वाली गायें केवल एक ही नस्ल की होंगी यानी या तो सभी क्रॉस ब्रीड जर्सी या क्रॉस ब्रीड एच.एफ. या साहीवाल नस्ल की।
  • इस योजना के तहत सभी पशुओं को राज्य के बाहर से खरीदा जाना है।
  • लाभार्थी के पास शेड और गोदाम आदि के निर्माण के लिए आवश्यक भूमि को छोड़कर, कम से कम आधा एकड़ से लेकर दो एकड़ तक भूमि होनी चाहिए।
  • कुल इकाई लागत का न्यूनतम 25% मार्जिन मनी के रूप में लाभार्थी को अपने संसाधनों से वहन करना होगा और शेष राशि बैंक से ऋण के रूप में आएगी।
  • बैंक से ली गई ऋण राशि पर 12% प्रति वर्ष की दर से ब्याज की प्रतिपूर्ति पांच वर्ष (60 माह) तक उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा की जाएगी।

Also, read: सामूहिक विवाह योजना 2024 | Samuhik Vivah Yojana 2024

यूपी कामधेनु डेयरी योजना 2024 के अंतर्गत सब्सिडी | Subsidy under UP Kamdhenu Dairy Scheme 2024

कामधेनु स्कीम के अंतर्गत कोई भी किसान या पशुपालक लोन सब्सिडी लिए अप्लाई कर सकता है| योजना के अंतर्गत 25 दुधारू गाय पालने के लिए 3 प्रतिशत ब्याज की दर से कुल खर्च का 85 प्रतिशत दिया जायेगा | शेष बची धनराशि राशि का 15 प्रतिशत आपको वहन करना होगा | यदि हम सब्सिडी की बात करे, तो इस स्कीम के अंतर्गत लोन के रूप में ली गयी धनराशि को समय से वापस करने पर आपको 35 प्रतिशत की सब्सिडी प्रदान की जाएगी|

आवश्यक डाक्यूमेंट्स | Required Documents

  • आवेदक के पास अपने राज्य का निवास प्रमाण पत्र होना आवश्यक है
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक खाता नंबर
  • आवेदक की पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • पशु पालन से संबंधित कोई दस्तावेज

Also, read: उत्तर प्रदेश विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2024 | Uttar Pradesh Vishwakarma Shram Samman Yojana 2024

FAQs

Q यूपी कामधेनु डेयरी योजना क्या है?

यह योजना उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा गौ पालकों को आत्मनिर्भर बनाने और डेयरी उद्योग को बढ़ावा देने के लिए शुरू की गई एक महत्वाकांक्षी योजना है।

Q. इस योजना के लाभ क्या हैं?

  • डेयरी इकाई स्थापित करने के लिए 50% तक सब्सिडी
  • गायों की खरीद के लिए 25% तक सब्सिडी
  • चारागाह विकास के लिए अनुदान
  • डेयरी प्रशिक्षण और क्षमता निर्माण
  • पशु चिकित्सा सुविधाओं तक पहुंच
  • बाजार linkages

Q. इस योजना के लिए कौन पात्र है?

  • उत्तर प्रदेश का स्थायी निवासी
  • कम से कम 10 गायों का पालन करने की योजना
  • डेयरी इकाई स्थापित करने के लिए पर्याप्त भूमि
  • बैंक खाता और आधार कार्ड

Q. इस योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

  • ऑनलाइन: पशुपालन विभाग की वेबसाइट पर जाएं और आवेदन पत्र भरें।
  • ऑफलाइन: पशुपालन विभाग के कार्यालय में जाकर आवेदन पत्र प्राप्त करें और उसे भरकर जमा करें।

Also, read: उत्तर प्रदेश विधवा पेंशन योजना 2024 | Uttar Pradesh Vidhwa Pension Yojana 2024

Q. इस योजना की अवधि क्या है?

यह योजना 2024 तक चलेगी।

Q. इस योजना का प्रभाव क्या है?

इस योजना के तहत, अब तक हजारों गौ पालकों को लाभान्वित किया गया है। इस योजना ने डेयरी उद्योग में उल्लेखनीय वृद्धि की है और गौ पालकों की आय में भी वृद्धि हुई है।

Q. क्या इस योजना के लिए कोई हेल्पलाइन नंबर है?

हाँ, हेल्पलाइन नंबर 1800-180-1551 है।

Q. क्या इस योजना में कोई बदलाव हुआ है?

हाँ, 2024 में कुछ बदलाव किए गए हैं।

  • अब, गायों की खरीद के लिए 25% तक सब्सिडी दी जा रही है।
  • चारागाह विकास के लिए अनुदान की राशि बढ़ा दी गई है।
  • डेयरी प्रशिक्षण और क्षमता निर्माण कार्यक्रमों को विस्तारित किया गया है।

Q. क्या इस योजना के तहत ऋण भी उपलब्ध है?

हाँ, इस योजना के तहत ऋण भी उपलब्ध है। ऋण के लिए आवेदन करने के लिए, आपको पशुपालन विभाग के कार्यालय से संपर्क करना होगा।

Also, read: उत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना 2024 | Uttar Pradesh Shramik Bharan Poshan Yojana 2024

Also, read: तेजस कौशल प्रशिक्षण परियोजना | Tejas Skill Training Project | TEJAS

Also, read: स्ट्राइव योजना | Strive Yojana | STRIVE

Also, read: संकल्प योजना | Sankalp Yojana | SANKALP

Also, read: राष्ट्रीय कौशल विकास निगम | National Skills Development Corporation | NSDC

Also, read: राष्ट्रीय वायोश्री योजना 2024 | Rashtriya Vayoshri Yojana 2024 | RVY

Also, read: वन रैंक, वन पेंशन योजना 2024 | One Rank, One Pension Yojana 2024 | OROP

Also, read: स्किल इंडिया डिजिटल योजना | Skill India Digital Yojana | SIDY

Also, read: स्वदेश दर्शन योजना 2024 | Swadesh Darshan Yojana 2024 | SDY

Share on:

Leave a Comment

Terms of Service | Disclaimer | Privacy Policy
राम मंदिर के अद्भुत रहस्य: जो आपको हैरान कर देंगे अंधेपन से प्रतिभा तक: Ram Bhadracharya की उल्लेखनीय कहानी Ram Janmbhoomi-Ayodhya का चमत्कारी इतिहास क्या आप Cryptocurrency के बारे में जानते हैं? The Election Law Admendment Bill 2021 – विपक्षी दल कर रहे विरोध। Apple iPhone 13 हुआ लॉन्च – जानिए क्या है उसके फीचर्स। iPhone 14 भी हुआ leak – Top Rumored Features Apple iPhone 13 Released Date : बिलकुल ही Fresh looks और नये Features के साथ